Sahara Refund Portal aadhaar linking with bank account. Best Updates

Sahara Refund Portal (सहारा रिफंड): सहारा रिफंड के तहत जिन निवेशकों को ऑनलाइन आवेदन करना है वैसे सभी निवेशक का आधार कार्ड अपने बैंक खाते से लिंक होना चाहिए और जो भी निवेशक का आधार कार्ड जो बैंक लिंकिंग का प्रोसेस है उसमें दो-तीन स्टेप का प्रोसेस होता है, तो सभी ग्राहक अपना जो भी आधार कार्ड बैंक में दिए हैं वैसे सभी लोग अपना अपना आधार कार्ड पर लिखकर कि मुझे डीबीटी और एनपीसीआई आधार लिंक अपने खाता में करवाना है, ऐसे जितने भी खाता धारक है वैसे सभी निवेशकों को यह आधार कार्ड एवं बैंक लिंकिंग की प्रक्रिया सभी लोगों को करवाना अनिवार्य है, नहीं तो यह आगे की प्रक्रिया ऑनलाइन आवेदन करने में बहुत सारी परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है, इस कारण सभी से अनुरोध है, कि आप सभी जितना जल्द से जल्द या काम करा लें, और उसके बाद ही आप सहारा रिफंड पोर्टल पर ऑनलाइन जाकर आवेदन करें ऑनलाइन आवेदन करते समय इन सभी चीजों की जरूरत है आपको पड़ेगी इसलिए पहले से ही आप सभी निवेशक इस काम को करा कर रखें और उसके बाद ऑनलाइन आवेदन करें।

Sahara Refund Portal aadhaar linking with bank account
Sahara Refund Portal aadhaar linking with bank account

DBT क्या है ?

  • बैंक के साथ DBT प्रणाली (DBT System with Bank) एक ऐसी प्रक्रिया है जिसमें सरकार नकद लाभ या सब्सिडी को नागरिकों के बैंक खातों में सीधे ट्रांसफर करती है। यह प्रणाली सब्सिडी, पेंशन, वित्तीय सहायता और अन्य सरकारी योजनाओं के तहत नकद लाभ को प्राप्त करने के लिए उपयोग की जाती है।
  • इस प्रणाली का उद्देश्य नकद लाभों और सब्सिडी को डिजिटल रूप से वितरित करके प्राप्तकर्ताओं को लाभ पहुंचाना और धनव्यवस्था में पारदर्शिता और दिलासा प्रदान करना है। इसके अलावा, यह प्रणाली रेशमी अकाउंट से धन निकासी और नकद लेनदेन के कई प्रक्रियाओं में सुधार करती है, जो नकद व्यय और फ्रॉड के खिलाफ सुरक्षा को बढ़ाता है।
  • DBT प्रणाली ने दिव्यांग, किसान, गरीब, बेरोज़गार युवा, महिला और अन्य विभागों को सब्सिडी और नकद लाभ प्राप्त करने में मदद की है, जिससे उनके जीवन को सुगम बनाने में मदद मिली है।

NPCI क्या है ?

NPCI (National Payments Corporation of India) बैंक के साथ एक प्रणाली है, जो भारत में डिजिटल भुगतान और वित्तीय संबंधों के लिए एक महत्वपूर्ण संस्था है। यह भारतीय बैंकों के बीच आपसी भुगतान समर्थन के लिए एक माध्यम है, जो विभिन्न डिजिटल वित्तीय सेवाओं के लिए जिम्मेदार है।

NPCI का प्राथमिक उद्देश्य भारतीय अर्थव्यवस्था में डिजिटल पेमेंट्स को बढ़ावा देना है और भुगतान प्रक्रिया को अधिक सुरक्षित और पारदर्शी बनाना है। NPCI द्वारा संचालित विभिन्न डिजिटल भुगतान सेवाएं हैं, जैसे कि:

1. UPI (Unified Payments Interface): यह एक मोबाइल एप्लीकेशन है जो भारत में तत्काल बैंक से बैंक भुगतान को संभव बनाता है।

2. IMPS (Immediate Payment Service): यह एक तत्काल नकद अंतरण सेवा है जो खाता से खाता तक पैसे ट्रांसफर करने की अनुमति देता है।

3. AePS (Aadhaar Enabled Payment System): यह आधार कार्ड के माध्यम से नकद निकासी और बैंक खाते की संख्या की जांच करके भुगतान की सुविधा प्रदान करता है।

4. RuPay Card: यह भारतीय बैंकों द्वारा जारी किया गया एक राष्ट्रीय कार्ड है जो विभिन्न वित्तीय लेनदेनों को संभव बनाता है।

NPCI एक स्वयंसेवी संस्था है जिसकी स्थापना रिज़र्व बैंक और भारतीय बैंकों द्वारा की गई थी। इसका मुख्य उद्देश्य भारत में डिजिटल वित्तीय सेवाओं को प्रोत्साहित करना है और सुरक्षित, तेजी से और सरलता से भुगतान के विकास का समर्थन करना है।

Special Link

Sahara Refund Portal Click Here
Sahara Refund Portal Login Click Here
NPCI Form Click Here to download NPCI Form
Official Website Click Here
Join WhatsApp Group Join Now

सहारा रिफंड पोर्टल से पैसा निकालने हेतु जरूरी कागजात 

सहारा में जितने भी निवेशक हैं उन सभी निवेशकों का सहारा रिफंड पोर्टल पर ऑनलाइन आवेदन करने के लिए सभी निवेशकों का एक जरूरी कागजात सभी लोगों को देना है तो उसमें से एक जरूरी कागजात क्या-क्या है नीचे दी गई है:

• रसीद की छाया प्रति
• बैंक खाता
• आधार कार्ड
• पैन कार्ड
• ईमेल आईडी
• फोटो
• हस्ताक्षर

नोट: सहारा इंडिया में पैसा जमा करते समय जितने भी आपको कागजात सहारा इंडिया बैंक के द्वारा आप को दी गई है वैसे सभी संबंधित कागजात आप सभी व्यक्ति ऑनलाइन आवेदन करते समय लेकर जाएं।

जमा प्रमाण पत्र या पासबुक की कॉपी भी अपलोड करना होगा: जमाकर्ता को एक ही दावा प्रपत्र में सभी डिपाजिट का विवरण एक ही दवा फॉर्म में देना जरूरी है, जमा प्रमाण पत्र या पासबुक की कॉपी भी अपलोड करनी होगी एक बार दावा फॉर्म जमा करने के बाद कोई भी और दावा नहीं जोड़ सकते हैं। Sahara

आधार से जुड़ा मोबाइल व बैंक खाता अनिवार्य होना चाहिए: जमाकर्ता के पास आधार से जुड़े मोबाइल नंबर और आधार से जुड़ा बैंक खाता होना जरूरी है इसके बिना पंजीकरण नहीं होगा।

50,000 की अधिकतम जमा राशि पर पैन कार्ड अनिवार्य: यदि निवेशकों की ₹50000 या ₹50000 से अधिक है तो सहारा रिफंड पोर्टल के तहत रिफंड पाने के लिए पैन कार्ड अनिवार्य है अगर आपके पास पैन कार्ड नहीं है तो बनवाना पड़ेगा इसके बिना नहीं होने वाला है काम।

एक से अधिक बौंड होने पर आवेदन प्रक्रिया: जिन जमाकर्ताओं का एक से अधिक बौंड होने पर आवेदन एक ही होगा, एक ही आवेदन में सभी बौंड का विवरण एक साथ एक आवेदन में जमा होगा।
Sahara Refund Portal how to apply name mismatch candidates
Sahara Refund Portal how to apply name mismatch candidates
FAQs : Sahara Refund Portal

Q1. What is Sahara India ?

Ans.: Sahara India is a Sahara India family which is also called an Indian conglomerate. Its headquarter is located in Lucknow, Uttar Pradesh India. Its founder is Subrata Roy who started it in 1978. Sahara India family is named as the world’s largest family.

Leave a Comment