Bihar Mukhyamantri Kanya Uthaan Scheme check all stuedent payment status. Best Updates

Bihar: मुख्यमंत्री कन्या उत्थान योजना के अंतर्गत जिन विद्यार्थियों ने आवेदन किया है, या फिर आवेदन करना है वैसे सभी विद्यार्थियों के लिए एक जरूरी सूचना जिन विद्यार्थियों का अपने बैंक खाते से आधार सीडेड एवं आधार डीबीटी लिंकिंग और एनपीसीआई अगर किसी भी विद्यार्थियों का नहीं होता है तो इस कारण से विद्यार्थियों का स्कॉलरशिप का पैसा नहीं आएगा और सभी विद्यार्थी इस प्रक्रिया को कैसे पूर्ण करेंगे और यह क्यों जरूरी है नीचे दी गई पोस्ट में आप सभी विद्यार्थियों को इसके बारे में अच्छे से बताया गया सफल विद्यार्थी आधार कि यह जो प्रक्रिया है। Bihar

Bihar Money is not coming under Kanya Uthan Yojana
Bihar Money is not coming under Kanya Uthan Yojana

Mukhyamantri Kanya Uthaan Yojna 2023

Special Link

 

Registration Link Registration for Students
Applicant Login Login for Students
Check Applicaiton Status Check Application Status
NPCI Form Click Here to download NPCI Form
Download Acknowledgment Receipt Download
Offical Website Click Here
Join WhatsApp Group Join Now

 

छात्रवृत्ति योजना संबंधित सूचना:

ग्रेजुएशन/इन्टरमीडिएट/मैट्रिक पास सभी छात्र-छात्राएं जो प्रोत्साहन राशि के लिए ऑनलाइन आवेदन किए हैं वैसे सभी छात्र-छात्राओं को सूचित किया जाता है कि जिनका भी आधार आपके बैंक खाता से सीडेड (DBT के लिए ) नहीं है , वो बैंक से तुरंत संपर्क करके सीडेड कराले। क्यूंकि आधार सीडिंग और खाता से आधार लिंक दोनों अलग-अलग चीज़े है। जिनका भी बैंक अकाउंट आधार के साथ सीडेड नहीं है, उनका भुगतान नहीं किया जाएगा। Bihar

DBT क्या है ?

बैंक के साथ DBT प्रणाली (DBT System with Bank) एक ऐसी प्रक्रिया है जिसमें सरकार नकद लाभ या सब्सिडी को नागरिकों के बैंक खातों में सीधे ट्रांसफर करती है। यह प्रणाली सब्सिडी, पेंशन, वित्तीय सहायता और अन्य सरकारी योजनाओं के तहत नकद लाभ को प्राप्त करने के लिए उपयोग की जाती है। Bihar

इस प्रणाली का उद्देश्य नकद लाभों और सब्सिडी को डिजिटल रूप से वितरित करके प्राप्तकर्ताओं को लाभ पहुंचाना और धनव्यवस्था में पारदर्शिता और दिलासा प्रदान करना है। इसके अलावा, यह प्रणाली रेशमी अकाउंट से धन निकासी और नकद लेनदेन के कई प्रक्रियाओं में सुधार करती है, जो नकद व्यय और फ्रॉड के खिलाफ सुरक्षा को बढ़ाता है।

DBT प्रणाली ने दिव्यांग, किसान, गरीब, बेरोज़गार युवा, महिला और अन्य विभागों को सब्सिडी और नकद लाभ प्राप्त करने में मदद की है, जिससे उनके जीवन को सुगम बनाने में मदद मिली है। Bihar

NPCI क्या है ?

NPCI (National Payments Corporation of India) बैंक के साथ एक प्रणाली है जो भारत में डिजिटल भुगतान और वित्तीय संबंधों के लिए एक महत्वपूर्ण संस्था है। यह भारतीय बैंकों के बीच आपसी भुगतान समर्थन के लिए एक माध्यम है, जो विभिन्न डिजिटल वित्तीय सेवाओं के लिए जिम्मेदार है।

NPCI का प्राथमिक उद्देश्य भारतीय अर्थव्यवस्था में डिजिटल पेमेंट्स को बढ़ावा देना है और भुगतान प्रक्रिया को अधिक सुरक्षित और पारदर्शी बनाना है। NPCI द्वारा संचालित विभिन्न डिजिटल भुगतान सेवाएं हैं, जैसे कि:

1. UPI (Unified Payments Interface): यह एक मोबाइल एप्लीकेशन है जो भारत में तत्काल बैंक से बैंक भुगतान को संभव बनाता है।

2. IMPS (Immediate Payment Service): यह एक तत्काल नकद अंतरण सेवा है जो खाता से खाता तक पैसे ट्रांसफर करने की अनुमति देता है।

3. AePS (Aadhaar Enabled Payment System): यह आधार कार्ड के माध्यम से नकद निकासी और बैंक खाते की संख्या की जांच करके भुगतान की सुविधा प्रदान करता है।

Leave a Comment